“तीन साल किसान बेहाल” ट्विटर ट्रेड में पहले नंबर पर

सोशल साइट्स पर लोग किसानों पर पुलिस फायरिंग का विरोध कर रहे हैं। मंगलवार को मध्यप्रदेश के मंदसौर में प्रदर्शन कर रहे किसानों पर पुलिस की गोलीबारी में पांच किसानों की मौत हो गयी। किसान फसलों का सही दाम और लोन माफी के लिए एक जुलाई से प्रदर्शन कर रहे हैं।

विपक्ष के साथ-साथ आम लोग बीजेपी सरकार को गोलिबारी के लिए जिम्मेदार ठहरा रही है। ‘तीन साल बेमिसाल’ के नारे के विरोध में ‘तीन साल किसान बेहाल’ हैशटैग ट्रेंड कर रहा है।

अमित शाह ने ट्विवट किया “मैनें मध्यप्रदेश सीएम शिवराज सिंह जी से बात की है। उन्होने कहा कि मध्यप्रदेश शासन घायलों की सहायता के लिए सभी प्रयास कर रही है।”

ट्वीटर पर सक्रिय प्रधान मंत्री नरेन्द्र मोदी ने अपने निजी ट्वीटर एकाउंट से कोई पोस्ट नहीं किया है।  इस पर तंज कसते हुए मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस नेता ने ट्वीट किया

” लंदन में 6 मौतों पर सुबह 5 बजे ट्वीट करने वाले साहब मध्यप्रदेश में 6 किसानों की मौत के बाद भी मौन हैं।”

हालांकि मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान घटना के बाद से ट्वीटर पर शांति की अपील की है। इसके साथ ही उन्होंने किसानों को राहत देने के लिए कई योजनाओं की घोषणा की है।

ट्वीट में उन्होनें तो खुद को किसान भी बताया है। तो दिग्विजय सिंह ट्वीट करके  मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह को “कपूत” तक कह दिया।

लगातार किए गए ट्वीट में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आंदोलन को हिंसक बनाने के लिए कांग्रेस को जिम्मेदार ठहराया है।

“कांग्रेस की मंशा शुरू से ही इस आंदोलन को राजनीतिक रंग देने की रही है। कांग्रेस ने आंदोलन को हिंसक बना दिया है।”

‘द वायर के संस्थापक संपादक ने अपने ट्वीट में लिखा,  “हरियाणा में हिंसक जाट आंदोलन के लिए बीजेपी को जिम्मेदार ठहराया लेकिन प्रकाश सिंह रिपोर्ट खट्टर प्रशासन की ओर इशारा करती है। एमपी में वही पैटर्न दोहराया जा  रहा है।”

वहीं गुजरात में पटेल आरक्षण आंदोलन के नेता हार्दिक पटेल ने ट्वीट किया, “नहीं चाहिए स्मार्ट सीटी  भैया, स्मार्ट किसान बनाओ। गोली चलाना बंद करो। अगर उठ गया हल तो गिर जाएगी सरकार तुम्हारी”

#FarmerleaderRG, हैशटैग भी ट्विटर पर तीसरे नंबर पर ट्रैंड कर रहा है। एमपी कांग्रेस ने अपने अधिकारिक एकाउंट से राहुल गांधी के मंदसौर पहुंचने की जानकारी दी है।

ट्वीटर यूजर अरविंद झा ने मोदी सरकार द्वारा अखबार में दिए विज्ञापन का फोटो शेयर करते हुए लिखा है,

” विज्ञापन ही सभी समस्याओंं का निदान है, मोदी यही समझते हैं। राष्ट्र किसानों का सबसे बड़ा संकट झेल रहा है वे पूरे पेज का विज्ञापन दे रहे है।”

तेज करण प्रजापति ने अपने ट्वीटर हैंडल @TKprajapati से नरेन्द्र भाई मोदी का एक वीडियो शेयर करते हुए लिखते हैं ” Modi fooled Farmers on MSP & after coming to power he refused to give the promised MSP” “मोदी न्यूनतम समर्थन मूल्य(एमएसपी) पर पहले किसानों को बेवकूफ बनाते हैं और सत्ता में आने के बाद एमएसपी पर किए वादे से मुकर जाते हैं। “वीडियो देखने के लिए इस लिंक पर जाएं, http://bit.ly/2sir8Ak

शिवराज सिंह चौहान ने गोलीबारी से किसानों के मरने के तुरंत बाद ट्विटर पर एक वीडियो जारी कर लोगों से शांति की अपील की थी। सुनिए पूरा वीडियो http://bit.ly/2r8PBnl

 

 

 

शेयर करें