25 सालों से उठाती रही पेंशन, आधार वेरिफीकेशन में भी फर्जीवाड़ा

गढ़वा. जिले के डंडई प्रखंड के कोरटा गांव में 25 सालों से अवैध रूप से पेंशन लेने का मामला सामने आया है. यह खुलासा पिछले दिनों प्रेमन कुंवर की मौत के बाद हुई जांच में सामने आया है.

जांच में पता चला है कि प्रेमन कुंंवर अपनी सौत शांति देवी के नाम पर पिछले 25 सालों से इंदिरा गांधी राष्ट्रीय विधवा पेंशन का लाभ उठा रही थीं. दोनों महिलाएं मुटूर महतो की पहली और दूसरी पत्नी हैं. जांच में पता चला कि आधार वेरिफीकेशन में भी फर्जीवाड़ा किया गया है.

पिछले दिनों प्रेमन कुंवर की भूख से मरने की खबर आई थी. जिसके बाद मुख्यमंत्री ने गढ़वा के उपायुक्त को जांच के आदेश दिये थे. जांच में समाजिक सुरक्षा के सहायक निदेशक, अग्रणी बैंक के मैनेजर व जिला परियोजना पदाधिकारी को शामिल किया गया था.