मई महीने में महंगाई दर न्यूनतम स्तर पर

देश में  खाने –पीने की वस्तुओं जैसे दाल –सब्जी व अन्य सामग्री के सस्ता होने से खुदरा मुद्रास्फीति 2.18 के फीसदी के न्यूनतम स्तर पर आ गया है. वहीं फलों के दामों में थोड़ी बढ़ोतरी हुई है, तो दूसरी तरफ अप्रैल माह में यह आंकड़ा 2.99 फीसदी था.पिछले साल मई 2016 में यह आंकड़ा 5.76 था. कुल मिलकर खाद्य मुद्रास्फीति में लगातार गिरावट देखने को मिल रही है. जिससे खाद्य पदार्थों के दामों में लगातार गिरावट हो रही है.

उद्योग जगत की धीमी पड़ी रफ़्तार

दूसरी तरफ देश में उद्योग जगत में खनन व बिजली के क्षेत्र और विनिर्माण कार्यों के कमजोर  प्रदर्शन के कारण औद्योगिक उत्पादन की वृद्धि दर घटकर 3.1 फीसदी रह गई है. केन्द्रीय सांख्यिकी विभाग के द्वारा पिछले साल अप्रैल में जारी किये गये आंकड़ों से अभी की गति काफी धीमी है.

स्त्रोत – विभिन्न स्त्रोतों से तैयार खबर

फोटो क्रेडिट – हिंदुस्तान टाइम्स

शेयर करें