राष्ट्रपति चुनाव : विपक्ष के पास नाम सुझाने का मौका ख़त्म

विपक्षियों के द्वारा राष्ट्रपति उम्मीदवार के लिए कोई भी नाम नहीं सुझाये जाने पर भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष ने यह संकेंत दिया है कि अब उनके पास कोई मौका नहीं है. गौरतलब है कि भाजपा द्वारा राष्ट्रपति उम्मीदवार के चयन के लिए बनाई गई कमिटी सदस्य के हैसियत से राजनाथ सिंह और वेंकैया नायडू विपक्षी दलों से मिलने पहुंचे थे, पर उनके तरफ से राष्ट्रपति पद के लिए कोई भी उम्मीदवार का नाम सामने नहीं आया. इसको देखते हुए अमित शाह ने स्पष्ट कर दिया है कि एनडीए अपने प्रत्याशी का नाम अब खुद तय करेगा.

भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि अगर सरकार, विपक्षी दलों के राष्ट्रपति उम्मीदवार का नाम पहले से लेकर पहुँचती तो ये लोग हम पर आरोप लगाते कि नाम पहले से तय है और ये बैठक महज एक दिखावा है.उन्होंने कहा कि हम उनसे सुझाव मांगने गये थे, पर हमें इस मामले पर कोई सुझाव नहीं मिला. अब हम उनके पास तब जायेंगे,जब हम किसी नतीजे पहुँच चुके होंगे.

आपको बता दें कि राष्ट्रपति चुनाव के लिए भाजपा ने तीन सदस्यीय समिति का गठन किया था,जिसमें अरुण जेटली, राजनाथ सिंह, और वेंकैया नायडू शामिल थे. बीते शुक्रवार को राजनाथ सिंह और वेंकैया नायडू ने राष्ट्रपति उम्मीदवार को लेकर सोनिया गाँधी समेत विपक्ष के अन्य नेताओं से मुलाकात की.