ऊना: तरनतारन से आये श्रद्धालुओं के जत्थे में 5 की मौत

ऊना. अम्ब में श्रद्धालुओं से भरा ट्रक पलटने से 5 श्रद्धालुओं की मौके पर मौत हो गई है, जबकि इस दर्दनाक हादसे में 60 के करीब श्रद्धालु घायल हुए हैं. गंभीर रूप से घायल 9 श्रद्धालुओं को पीजीआई चंडीगढ़ रेफर कर दिया गया है. वहीं बाकि घायलों को क्षेत्रीय अस्पताल ऊना और सिविल अस्पताल अम्ब में इलाज जारी है. हादसे की सूचना मिलते ही डीसी ऊना विकास लाबरू और एसपी संजीव गांधी ने घटनास्थल पर पहुंचकर राहत कार्यों का जायजा लिया. पुलिस ने मामला दर्ज करके आगामी कार्रवाई शुरू कर दी है.

मालूम हो कि पंजाब के जिले तरनतारन से 2 दिन पहले श्रद्धालुओं का एक जत्था ट्रक में सवार होकर ऊना जिले में स्थित डेरा बाबा बड़भाग सिंह मैडी में माथा टेकने आया था. दर्शन करने के बाद आज सुबह जब श्रद्धालुओं का यह जत्था डेरा अपने घर वापिस जा रहा था, तो श्रद्धालुओं से भरा ट्रक अंब के पास दुर्घटनाग्रस्त होकर सड़क पर पलट गया.

इस दर्दनाक हादसे में 2 महिलाओं सहित 5 लोगों की मौत हो गई, इनमें से चार की मौके पर ही मौत हो गई. जबकि एक महिला ने क्षेत्रीय अस्पताल ऊना में दम तोड़ दिया. ट्रक में सवार युवक ने बताया कि अपने घर वापिस जाते समय रास्ते में एक बाइक को बचाते समय ट्रक का ब्रेक फेल हो गया. जिससे ट्रक बेकाबू होकर सड़क पर पलट गया.

हड्डी विशेषज्ञ की कमी

हादसे के बाद क्षेत्रीय अस्पताल ऊना में हड्डी रोग विशेषज्ञ की कमी खल रही है. करीब पिछले 5 महीनों से ऊना अस्पताल में एक भी हड्डी रोग विशेषज्ञ नहीं है. जिसकी वजह से हादसे के बाद घायलों को पीजीआई रेफर करना पड़ा है. सीएमओ ऊना डा. प्रकाश दड़ोच ने बताया कि ऑर्थो के डाक्टर की नियुक्ति के लिए कई बार सरकार से पत्राचार किया गया है, लेकिन अभी तक कोई हड्डी रोग विशेषज्ञ तैनात नहीं हो पाया है.

वहीं, प्रशासन की ओर से एसडीएम ऊना पृथीपाल सिंह ने क्षेत्रीय अस्पताल ऊना में पहुंचकर घायलों और मृतकों के परिजनों को फौरी राहत के तौर पर आर्थिक मदद प्रदान की. एसडीएम ऊना भी मानते है कि मालवाहक वाहन में सवारी करना ही इस हादसे का मुख्य कारण रही है.