राष्ट्रपति चुनाव :विपक्ष भी उतार सकता है अपना उम्मीदवार

भारतीय जनता पार्टी के द्वारा रामनाथ कोविंद को राष्ट्रपति उम्मीदवार बनाये जाने का बाद विपक्ष उनके खिलाफ संयुक्त उम्मीदवार उतारने की योजना बना रहा है. गैर एनडीए दलों की इस मुद्दे पर 22 जून बैठक बैठक हो सकती है. विपक्षियों के द्वारा पूर्व लोकसभा अध्यक्ष मीरा कुमार, पूर्व केंद्रीय मंत्री सुशील कुमार शिंदे, डॉ. बी.आर. अम्बेडकर के पौत्र प्रकाश यशवंत अम्बेडकर, राष्ट्रपिता महात्मा गाँधी के पौत्र गोपालकृष्ण गाँधी के नामों पर विचार कर रही है.

रामनाथ कोविंद को राष्ट्रपति उम्मीदवार बनाने पर विपक्षी दलों को कोई भी आश्चर्य नहीं हुआ क्योंकि उन्हें पता है कि भाजपा पहली बार जीत के इतने करीब है और वे ये मौका हाथ से जाने नहीं देना चाहेंगे.कोविंद को राष्ट्रपति उम्मीदवार बनाये जाने के बाद समीकरण बिल्कुल बदल सा गया है,ऐसे में यह देखना काफी मजेदार हो गया है कि विपक्ष कौन से चेहरे को लेकर सामने आता है.